Electro Homeopathic Treatment of Nasal Polypus

Electro Homeopathic Treatment of Nasal Polypus: जब साइनस या नाक के श्वसन मार्गों के अंदरूनी परत का मांस बढ़ने लगता है। तो इस स्थिति को नाक का मांस बढ़ना या नेजल पोलिपुस कहते हैं।ज्यादातर अवस्था में नाक के अंदर का यह बढ़ा हुआ मांस कैंसरमुक्त और दर्द रहित होता है परन्तु कई बार इन्फ़ेक्सन आदि की वजह से हल्का दर्द हो सकता हे। यह बढ़ा हुआ मांस नाक के अंदर पानी की बूंद या अंगूर की तरह लटका हुआ प्रतीत होता है।नाक का मांस पुरुषों व महिलाओं दोनों ही में किसी भी उम्र में बढ़ सकता है। लेकिन यह स्थिति ज्यादातर वयस्कों में आम होती है।लेकिन आज कल बड़े बच्चो में भी यह आम देखा जा रहा हे।

Electro Homeopathic Treatment of Nasal Polypus
Electro Homeopathic Treatment of Nasal Polypus

Cause of Nasal Polypus

नाक का मांस बढ़ने के कोई ठोस कारन तो ज्ञात नहीं हे परन्तु कई स्थितियों के परिणामस्वरूप नाक के अंदर का मांस बढ़ने लगता है जैसे बार बार जुकाम होना , किसी एलर्जी के कारन , दमा में होने वाली एलर्जी के कारन , जुकाम का बहोत दिनों तक ठीक न होना आदि कई कारन देखे गए हे।

Symptoms of Nasal Polypus

यदि नाक के अंदर का मांस थोड़ा-बहुत बढ़ा हुआ है। तो उससे किसी प्रकार के लक्षण नहीं होते। लेकिन यदि नाक के अंदर का मांस अधिक बढ़ा हुआ है। तो उस से श्वसन मार्ग रुक जाते हैं। जिससे सांस लेने में दिक्कत होना, सूंघने की शक्ति कम होना और नाक में बार-बार संक्रमण होने जैसे लक्षण दिखने लगते हैं।रोगी मुँह खोल के सांस लेता हे और कई बार नींद में सांस रुक जाने से उठ भी जाता हे।

  • पोस्ट नेजल ड्रिप (बहती नाक के द्रव का गले में जाना)
  • सूंघने की शक्ति कम होना या खत्म हो जाना
  • चेहरे में दर्द या सिरदर्द
  • आपके माथे और चेहरे के ऊपर कुछ दबाव जैसा महसूस होना।
  • लगातार नाक बहना या बंद रहना
  • सांस लेने में गंभीर रूप से परेशानी महसूस होना
  • आंखों के आस-पास की सूजन

Read Also : EH Treatment of Pneumonia

Read Also : Electro Homeopathy Treatment of Ringworm

Read Also : Electro Homeopathy Treatment of Impotance

Electro Homeopathic Remedies Role in Nasal Polypus

इलेक्ट्रो होमियोपैथी नाक के बढे हुए मांस को धीरे धीरे कम कर के समाप्त कर देती हे और रोग की पुनरावृति को रोकती हे आधुनिक मेडिकल साइंस में नाक के मांस को काट के निकाला जाता हे लेकिन यह फिर बढ़ जाता हे इलेक्ट्रो होमियोपैथी के इलाज़ और संतुलित आहार विहार एवं कुछ प्राणायाम की सहायता से इसे जड़ से समाप्त किया जा सकता हे।

Nasal Polypus में सामान्य योग एवं प्राणायाम

  • अनुलोम विलोम प्राणायाम
  • भस्त्रिका प्राणायाम

Electro Homeopathic Treatment of Nasal Polypus

  • C5+Ven1+Ver1+F1+S5 – D6 20 Drops 5 Times a Day
  • P1+L1+S1+A2 – D4 10 Drops TDS Before Meal
  • A2+C5+GE – D4 Nasal Drop in a appropriate base – 4 Drops TDS in Nose

Leave a Reply