Electro Homeopathic Treatment of Migraine

Electro Homeopathic Treatment of Migraine: माइग्रेन गंभीर सर दर्द या स्पंदन संवेदना पैदा कर सकता है, यह आमतौर पर सिर के एक तरफ होता हे लेकिन यह दोनों तरफ भी हो सकता हे । इसमें अक्सर चक्कर, उल्टी और प्रकाश और ध्वनि के प्रति अत्यधिक संवेदनशीलता देखने को मिलती है। माइग्रेन का दौरा कुछ घंटों से कुछ दिनों तक चल सकता है, और दर्द इतना गंभीर हो सकता है कि यह आपकी दैनिक गतिविधियों को अस्त व्यस्त कर सकता है।कुछ लोगो में एग दृष्टि में भी दिक्कत कर सकता हे।

Electro Homeopathic Treatment of Migraine
Electro Homeopathic Treatment of Migraine

माइग्रेन के लक्षण : Symptoms of Migraine

प्राथमिक अथवा प्रारम्भिक लक्षण : माइग्रेन अटैक में एक या दो दिन पहले, आपको सूक्ष्म परिवर्तन दिखाई दे सकते हैं, जिसे आप आगामी माइग्रेन की चेतावनी समझ सकते है:

  • कब्ज़
  • मूड बदलता है, अवसाद से व्यंजना तक
  • भोजन की इच्छा
  • गर्दन में अकड़न
  • बढ़ी हुई प्यास और पेशाब
  • बार-बार जम्हाई लेना

दिनचर्या में रोज होने वाले लक्षण

  • सर दर्द
  • चक्कर
  • उलटी
  • कभी उच्च और कभी कम ब्लड प्रेशर
  • रौशनी और धवनि से दिक्कत

Read Also : Electro Homeopathic Treatment of Mastitis

Read Also :: Electro Homeopathic Treatment of Frozen Shoulder

Read Also : : Typhoid Treatment in Electro Homeopathy

Read Also : : Electro Homeopathy Treatment of Dengue

माइग्रेन का कारण : Cause of Migraine

माइग्रेन का कारण पूरी तरह पता नहीं चल पाया है लेकिन आनुवांशिकी और जीवन शैली कारक एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते दिखाई देते हैं। यह ब्रेनस्टेम में परिवर्तन के कारण हो सकता है। इसके साथ ही हार्मोनल परिवर्तन, नमकीन खाद्य पदार्थ और प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ, अत्यधिक कैफीन युक्त पेय और शराब, नींद में गड़बड़ी, पर्यावरण में बदलाव, तनाव को माइग्रेन के ट्रिगर कारक बताया गया है।

Links

Electro Homeopathic Treatment of Migraine

  1. A2+C5+S5+L1+F1+C1+Ven1+WE –  D6  -> 20 Drops per 3 Hours
  2. S10+S11 – D4 in Rectified Spirit -> 5 Drops TDS on Tongue

योग एवं प्राणायाम

  • अनुलोम विलोम
  • त्राटक
  • भस्त्रिका
  • कपालभाति

परहेज : चाय , कॉफी, चीनी , तम्बाकू, शराब , गरिस्ट भोजन

Leave a Reply